मानव शरीर के बारे में 20 रोचक जानकारी

नमस्का दोस्तों आज हमलोग मानव शरीर के बारे में कुछ रोचक जानकारी जानेंगे, मानव शरीर दुनिया का सबसे बड़ा अजूबा है कुदरत ने इसे बहुत ही बारीकी से बनाया है आज में आपको इंसानी सरीर के बारे में रोचक जानकारी देने वाले है जिसको जानके आप आश्चर्य भी करेंगे और अपने सरीर पर गर्व भी करेंगे।

मानव शरीर के बारे में 20 रोचक तथ्य

1. एक इंसान का दिल 72 बार प्रति मिनट के दर से एक दिन में 103680 बार धड़कता है और अपने पुरे जीवन काल में यानि की 70 साल में लगभग 3 अरब बार धरकता है

2 . स्त्रीयो का हृदय और मस्तिष्क पुरषो के तुलना में छोटा होता है, स्त्रियों के दिल की औसत वजन 250 ग्राम और मस्तिष्क का वजन 1150 ग्राम के करीब में होता है वही पुरुष का इन दोनों अंगो के वजन से करीब 60 से 75 ग्राम अधिक होता है होता है

3. अमाशय में बनने वाला रस जो हाइड्रो क्लोरिक अम्ल होता है यह इतना तेज होता है की यह सभी भोजन को आसानी से गला देता है यही कारन है की पेट के द्वारा किसी जीवाणु का संक्रमण जल्दी नहीं फैलता है

4 . मनुष्य का मस्तिष्क केवल 10 से 12 वाट का ऊर्जा प्रयोग करता है यानि एक led बल्ब जितना लेकिन इसकी स्टोरेज छमता अनलिमिटेड होती है और एक मनुष्य पुरे जीवन काल में करीब 10 tb की डाटा स्टोरेज करता है जबकि एक स्वस्थ मनुष्य 1000 tb से भी ज्यादा सूचनाओं को संगृहीत कर सकता है।

5.इंसानी शरीर के अंदर 5.5 लीटर रक्त रहता है जो इतनी तेज दौरता है की मात्र 20 सेकंड में पूरा सरीर का भ्रमण कर लेता है आपको शायद यकीन न हो लेकिन ये रक्त पुरे दिन में करीब 15 किलोमीटर जितना दौर जाता है।

6 .आपको जानकर हैरानी होगा की पुरे पृथ्वी पर केवल इंसान और व्हेल मछली ही मजे के लिए सेक्स करते है बाकि सभी जीव बच्चे पैदा करने के लिए करते है।

7. आपको शायद पता न हो लेकिन हमारे नाक एयर कंडीशनर होते है यानि की घर में लगे ac के जैसे जो बाहर से गर्म हवा को ठंडा और ठन्डे हवा को गर्म करके फेफड़ो तक पहुँचता है ऐसा इसलिए होता है की ठन्डे के दिनों में कही हमारे फेफरा जम न जाये

8. आपको पता होना चाहिए की मनुष्य के आँखों से बढ़कर कोई कैमरा नहीं है, मनुष्य का आँख 576 mp की होती है जो दस लाख से भी अधिक रंगो को पहचान सकती है लेकिन किसी भी कैमरा के लिए ये असंभव है।

9. शुक्राणु मानव शरीर की सबसे छोटी कोशिका होती है पुरुष के 1 मिलीलीटर वीर्य में 5 करोड़ से लेकर 15 करोड़ तक शुक्राणु होते है।

10. हमारे मस्तिष्क में 100 अरब से भी अधिक तंत्रिका कोशिका होती है,तंत्रिका तंत्र की बात करे तो ये हमारे शरीर में करीब 400 किलोमीटर की स्पीड से हमारे शरीर के दूसरे हिस्से में सुचना निर्देश पहुंचाने का काम करता है, जब हमारे शरीर के किसी हिस्से में चोट लगता है तो ये 400 किलोमीटर के स्पीड से पता लगा लेता है की शरीर के किस भाग में चोट लगा है।

इसे भी पढ़े चंद्रयान 2 से जुड़ी 20 रोचक तथ्य

11. हमें आने वाले छींक की रफ़्तार करीब 150 से 300 किलोमीटर की रफ़्तार से आती है और छींक की सबसे खास बात ये होती है कोई भी इंसान आँख खोल के नहीं छींक सकता,

12. मानव शरीर के अंदर पाए जाने वाले एंजाइम खाना पचाने का काम करती है पर क्या आपको पता है की यही एंजाइम इंसान के मरने के बाद मानव शरीर को ही पचाना आरम्भ कर देता है। और यही कारन होता है की मरने के बाद बॉडी से स्मेल आने लगती है।

13. मानव मस्तिष्क की कोशिका 25 वर्ष के बाद तेजी से नस्ट होने लगता है और दिमाग सिकुड़ कर छोटा हो जाता है यही कारन है की बुजुर्ग की स्मरण शक्ति कम हो जाती है।

14. मानव मस्तिष्क पुरे तरह से ठोस नहीं होता है मानव मस्तिष्क का 80% भाग पानी होता है मनुष्य का मस्तिष्क अपने आप ही दर्द को महसूस नहीं कर सकता है और मानव मस्तिष्क में हर छन लाखो रासायनिक प्रतिक्रिया होती रहती है।

15. एक नवजात शिशु में वयस्क के तुलना में अधिक हड्डी होती है, किसी बच्चे के शरीर में 300 हड्डी होती है जबकि वयस्क के शरीर में 206 जब कोई नवजात बड़े होते है तो तो ये हड्डी आपस में जुड़ जाते है

16. हमारा शरीर हर सेकंड 2.5 करोड़ कोशिका का निर्माण करता है, प्रति दिन करीब 200 अरब से भी अधिक रक्त कोशिका का निर्माण होता है और आपको बता दे की एक बून्द खून में 25 करोड़ कोशिका पाए जाते है।

17. आपको लगता होगा की सभी उंगलियों की नाख़ून एक साथ बढ़ता है लेकिन ऐसा नहीं है अँगूढ़े का नाख़ून बहुत धीरे बढ़ता है जबकि मिडिल फिंगर की नाख़ून सबसे तेज बढ़ती है।

18. इंसान के शरीर के सबसे कढोर अंग है जबरा शरीर किसी भी अंग में मरम्मत करने की छमता होती है लेकिन दांतो को मरम्मत नहीं कर सकती है।

19.मनुष्य के हाथ की छोटी ऊँगली किसी चीज को पकड़ने में 50% योगदान अकेले देती है. अगर आप एक हाथ से 20 किलो वजन उठाते है तो अकेले छोटी ऊँगली का योगदान 10 किलो का होता है।

20. पेट में उत्पन्न होने वाला HCL ब्लेड को भी आसानी से गला सकता है अगर हमारे अमाशय को नहीं गलाता तो उसकी खाश रीजन यह है की अम्ल से जितनी कोशिका नस्ट होती है उससे बहुत अधिक कोशिका का निर्माण भी हो जाता है।

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *