mahatma gandhi in hindi.महात्मा गाँधी से जुड़ी 26 रोचक जानकारी।

नमस्कार दोस्तों आज में आपलोगो को उस इंसान के बारे में बताने वाला हु जिनका भारत के आज़ादी में बहुत बड़ा योगदान था। वो बापू जो अंग्रेजो को भारत छोड़ने पे मजबूर कर दिया,वो बापू जिनको भारत माँ के आजादी के लिए कई बार जेल तक जाना पड़ा कोई कैसे भूल सकता है उनके इन बलिदानो को। mahatma gandhi in hindi

mahatma gandhi in hindi.महात्मा गाँधी से जुड़ी 26 रोचक जानकारी।

mahatma gandhi in hindi.महात्मा गाँधी से जुड़ी 26 रोचक जानकारी
mahatma gandhi in hindi

1, महात्मा गाँधी का पूरा नाम मोहनदास करमचंद्र गाँधी था। और उन्हें लोग बापू के नाम से भी पुकारते थे।

2. महात्मा गांधी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 ईस्वी में पोरबंदर में हुआ था जो की गुजरात में है।

3 महात्मा गांधी के पिता का नाम करमचंद्र गाँधी और माता का नाम पुतलीबाई था।

4. सन 1883 ईस्वी में मात्र 13 साल के उम्र में महात्मा गाँधी को 14 साल के कस्तूरबा से शादी करा दिया गया उसके दो साल बाद महात्मा गाँधी के पहले संतान का जन्म हुआ लेकिन वो कुछ दिनों तक ही जीवित रह पाया ।

5. महात्मा गाँधी के चार बेटे थे जिसका नाम हरिलाल गाँधी, मणिलाल गाँधी, रामदास गाँधी और देवदास गाँधी था।

6.महात्मा गांधी ने यूनिवर्सिटी ऑफ़ लंदन से कानून की पढाई करने के बाद मुंबई में वकालत भी कर चुके है लेकिन उन्हें वकालत में कोई खास सफलता नहीं मिली। उसके बाद 1 साल के करार पे दक्षिण अफ्रीका चले गए वकालत करने।

7. महात्मा गाँधी 21 सालो तक दक्षिण अफ्रीका में रहने के बाद उनके राजनैतिक ज्ञान में काफी वृद्धि हुई, दक्षिण अफ्रीका में ही महात्मा गाँधी को ट्रैन से फेंक दिया गया था, उस समय दक्षिण अफ्रीका में बसे भारतीयों पर बहुत ही अत्याचार किया जा रहा था और महात्मा गाँधी को भी वो अत्याचार सहना पर रहा था। उसके बाद 1914 ईस्वी को महात्मा गांधी भारत आये।

8. महात्मा गांधी के राजनैतिक गुरु गोपालकृष्ण गोखले थे।

9. महात्मा गांधी ने बहुत से आंदोलन किये जैसे की चम्पारण आंदोलन(1917 ), खेड़ा आंदोलन (1918 ), खिलाफत आंदोलन (1919 ), असहयोग आंदोलन (1920 ), दांडी मार्च (1930 ), सविनय अवज्ञा आंदोलन (1930 ), भारत छोड़ो आंदोलन (1942 ) इसके आलावा भी बहुत सा आंदोलन कर चुके है।

10. महात्मा गाँधी सर्वप्रथम दादा अब्दुल्ला का मुकदमा लड़ने के लिए दक्षिण अफ्रीका गए थे। उस समय उनकी आयु 24 वर्ष थी।

इसे भी पढ़े अकबर से जुड़ी 15 रोचक जानकारी

11. गाँधी जी से शुक्रवार का बहुत ही गहरा सबंध है,क्यूंकि गाँधी जी का जन्म भी शुक्रवार को हुआ तथा भारत को आजादी भी शुक्रवार को मिला और गाँधी जी की मृत्यु भी शुक्रवार के दिन ही हुआ था।

12. वर्ष 1930 में गाँधी जी को अमेरिका की टाइम मैगज़ीन ने Man Of The Year से नवाज़ा था।

13. महात्मा गाँधी जी को राम सब्द से बहुत ज्यादा लगाव था आप इसका अंदाजा इसी बात से लगा सकते है, जिस समय महात्मा गाँधी आखरी सांस ले रहे थे उस समय भी उनका आखरी सब्द राम ही था।

14. महात्मा गांधी अपने नकली दांतो को हमेशा धोती में बाँध के रखते थे उस नकली दांतो को केवल भोजन करते समय ही लगाते थे।

15. महात्मा गांधी को 5 बार नॉवेल पुरस्कार के लिए चुना गया लेकिन एक बार भी नहीं मिला। 1948 ईस्वी में मिलने से पहले ही उनकी हत्या हो गई।

16 महात्मा गाँधी के एक बहन और दो भाई थे, बापू इन सब भाई बहनो में सबसे छोटे थे।

17. महात्मा गाँधी को महात्मा की उपाधि रवीन्द्रनाथ टैगोर ने दी थी ।

18 महात्मा गाँधी को सर्वप्रथम राष्ट्पिता कहकर सम्बोधित करने वाले सुभाष चंद्र बोस थे। लेकिन भारत सरकार महात्मा गाँधी को आधिकारिक तौर पे राष्ट्रपिता घोषित नहीं कर सकती है क्यूंकि संबिधान में ऐसा नियम नहीं है

19.महात्मा गाँधी की हत्या नाथूराम गोडसे ने की थी।

20. महात्मा गाँधी की मातृभाषा गुजराती थी।

21. महात्मा गाँधी का आत्मकथा का नाम ‘सत्य का प्रयोग’ है

22. महात्मा गाँधी और सुभाष चंद्र बोस अच्छे मित्र होने के वाबजूद उन दोनों मे मतभेद होते रहता था, इसका कारन था अहिंसा क्यूंकि महात्मा गाँधी अहिंसा छोड़ने को तैयार नहीं थे !

23. महात्मा गाँधी बचपन मे बहुत शर्मीले थे यही वजह था की वो कभी फोटो खिचवाना नहीं चाहते थे !

24. महात्मा गाँधी अपने पुरे जीवन का करीब 6 साल जेल मे ही बिताये उनको कई बार जेल जाना परा था !

25. महात्मा गाँधी के समाधी स्थल का नाम राजघाट है !

26. महात्मा गाँधी की मृत्यु 30 जनवरी 1948 को हुई थी !

इसे भी पढ़े

नोट: अगर आपको महात्मा गाँधी से जुड़ी रोचक तथ्य। mahatma gandhi in hindi  पोस्ट अच्छी लगी हो तो ज्यादा से ज्यादा शेयर करे। ताकि औरो को भी जानकारी मिल सके। आप hindiwebdunia से जुरना चाहते है तो bel notification जरूर दबा ले ताकि जब भी पोस्ट डाला जायेगा, आपको जानकारी मिल जायेगा। आप अपना कीमती समय दिए इसके लिए आपका धन्यबाद।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *