about moon in hindi. चन्द्रमा के बारे में 25 रोचक तथ्य।

नमस्कार hindiwebdunia में आप सभी का बहुत बहुत स्वागत है। आज में आप सभी के लिए about moon in hindi पे पोस्ट लेके आया हूँ। चन्द्रमा पृथ्वी का एकमात्र उपग्रह है। चन्द्रमा एक बहुत ही सुन्दर उपग्रह है। यही कारन है की, कई गाना में चन्द्रमा के खूबसूरती का जिक्र किया गया है। बहुत से देशो के वैज्ञानिक चन्द्रमा के परीक्षण में लगे हुए है, ताकी मानव जाती को एक नया घर मिल सके। जिस तरह से प्रकृति से लोग खिलवाड़ कर रहे है, उससे तो यही लगता है, आने वाले समय में पृथ्वी का अंत निश्चित है। तो चलिए ज्यादा समय न लेते हुए about moon in hindi को जानते है।

about moon in hindi. चन्द्रमा के बारे में 25 रोचक तथ्य।

about moon in hindi. चन्द्रमा के बारे में 25 रोचक तथ्य।
about moon in hindi

1. क्या आप जानते है चन्द्रमा पृथ्वी का एकलौता उपग्रह है !

2. अगर चन्द्रमा के उत्पत्ति की बात की जाए तो इस विषय में बहुत सारे विज्ञानिको के अलग अलग तर्क है। कुछ विज्ञानिको का मानना है की, लगभग 4.5 बिलियन वर्ष पहले पृथ्वी तथा थिया ग्रह के बिच जबरदस्त टक्कर हुआ था, इस टक्कर के कारण पृथ्वी तथा थिया ग्रह का कुछ हिस्सा अलग हो गया और दोनों हिस्सा आपस में चिपक गया, जो आज चन्द्रमा के रूप में जाना जाता है।

3. वैज्ञानिक इस सिद्धांत के पीछे का कारन अपोलो के अंतरिक्ष यात्री द्वारा चाँद से लाये गए मिट्टी को मानते है। विज्ञानिको का कहना है इस मिट्टी पर थिया नामक ग्रह की कुछ निशानिया मिलती है।

4. वही कुछ शोधकर्ता का मानना है की पृथ्वी के सतह से लगभग 3000 किलोमीटर निचे एक विस्फोट हुआ जिसके कारन पृथ्वी की धूल तथा मिट्टी अंतरिक्ष में चली गई, जो एक जगह इकट्ठा होके चन्द्रमा का निर्माण किया।

5. चन्द्रमा के उत्पत्ति के विषय में और भी कई तर्क दिए गए है। अब सही क्या है और गलत क्या है , इसको बताना तो मुश्किल है।

6. वही चाँद के वजन की बात की जाए तो, चाँद का वजन लगभग 81 अरब टन है।

7. अगर चन्द्रमा के व्यास की बात की जाए तो, चन्द्रमा का व्यास 3480 किलोमीटर है।

8. चन्द्रमा का आकार पृथ्वी के आकर का मात्र 27% ही है।

9. चाँद आकार में पांचवा सबसे बड़ा उपग्रह है।

10. चन्द्रमा पर कदम रखने वाले प्रथम व्यक्ति निल आर्मस्ट्रांग थे। इन्हे 1969 ईस्वी में अपोलो 11 की सहायता से चन्द्रमा के सतह पर भेजा गया था। निल आर्मस्ट्रोंग के अलावा बज एल्ड्रिन भी चन्द्रमा पर गए थे। लेकिन पहले निल आर्मस्ट्रोंग चन्द्रमा के सतह पे उतरे थे, इसके बाद बज एल्ड्रिन। यही कारन है की चन्द्रमा पे उतरने वाले पहले व्यक्ति का नाम आता है, तो निल आर्मस्ट्रोंग का नाम सबसे पहले लिया जाता है।

10. अभी तक कुल 12 अंतरिक्ष यात्री चन्द्रमा के सतह पर सफलतापूर्वक उतर चुके है।

11. जिसमे सभी अंतरिक्ष यात्री अमेरिका के ही थे।

इसे भी पढ़े चंद्रयान 2 से जुड़ी 20 रोचक तथ्य

12. आपको जानकारी के लिए बता दे 1972 के बाद चन्द्रमा के सतह पर कोई व्यक्ति नहीं उतरे है।

13. चन्द्रमा पर मानव मिशन भेजने में बहुत ज्यादा पैसा और समय लगता है,यही कारन है की कोई भी देश चाँद पर मानव मिशन भेजने से कतराता है।

14. चाँद पर बहुत कम गुर्त्वाकर्षण होने के कारण, पृथ्वी के मुकाबले चाँद पर किसी वस्तु का भार 1/6 भाग ही होता है। इसको और सरल शब्दों में समझने के लिए एक उदहारण लेते है। जैसे पृथ्वी पर किसी वस्तु का भर 120 किलोग्राम है, तो चन्द्रमा पर उस वस्तु का भार 120 किलोग्राम का 1/6 यानि की मात्र 20 किलोग्राम ही होगा।

15. क्या आप जानते है, पृथ्वी से चन्द्रमा का मात्र 57% हिस्सा ही दिखाई देता है!

16. बहुत से लोगो को लगता होगा की, चन्द्रमा खुद के प्रकाश से चमकता है! लेकिन वास्तव मे ऐसा नहीं है, चन्द्रमा, सूर्य के प्रकाश से प्रकाशित होता है!

17. चन्द्रमा तथा पृथ्वी के बिच की दुरी 384,365 किलोमीटर है!

18. आपको जानकारी के लिए बता दे, चन्द्रमा के प्रकाश को पृथ्वी तक पहुँचने मे मात्र 1.3 सेकंड का समय लगता है!

19. वही चन्द्रमा पे स्थित धूल के मैदान को शांति सागर के रूप मे जाना जाता है!

20. चन्द्रमा के अध्यन करने वाले विज्ञान को सेलेनोलॉजी कहते है।

21. आपको जानकारी के लिए बता दे चन्द्रमा के दक्षिणी ध्रुव में स्थित लिबनिट्ज पर्वत है। जिसकी ऊंचाई 10668 मीटर है। यह चाँद पे स्थित सबसे ऊँची पर्वत है।

22. चन्द्रमा को पृथ्वी की एक परिक्रमा करने में 27 दिन 8 घंटा का समय लगता है।

23. जब चन्द्रमा पृथ्वी के सबसे ज्यादा नजदीक होता है, उस स्थिति को ब्लू मून कहते है। इसमें चन्द्रमा पहले के अपेक्षा 14% अधिक बड़ा तथा 30% अधिक चमकदार दिखाई पड़ता है।

24. क्या आप जानते है चन्द्रमा पर एक दिन पृथ्वी के 14 दिनों के बराबर होते है!

25. चन्द्रमा पर दिन के समय 127 डिग्री तक पारा पहुँच जाता है, वही रात मे यह -183 डिग्री तक लुढ़क सकता है!

इसे भी पढ़े

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *